महिलाओं ने न सिर्फ़ अर्थी को दिया कंधा, मुखाग्नि भी दी

Nov 14, 2017, 10.31PM IST
VIEW IN APP
Send Push

बिहार के नवादा ज़िला में महिलाओं ने रूढ़िवादी मान्यताओं को तोड़ते हुए अर्थी को कंधा दिया.

मिर्जापुर की रहने वाली शांति देवी का निधन 70 साल में हो गई. अंतिम यात्रा में उनकी अर्थी को उनकी बेटी, नातिन और मुहल्ले की अन्य औरतों ने कंधा दिया. वे शव को लेकर श्मशान घाट पहुंचे, जहां उन्होंने मुखाग्नि भी दी.

यह कोई पहला मामला नहीं है जब महिलाएं अर्थी को कंधा दे रही हैं. इससे पहले भी नवादा में महिलाएं ऐसा कर चुकी हैं. ये महिलाएं समाज में बराबरी का संदेश देना चाहती हैं.

Push Details
Title of the push
Copy
Deeplink of the push
Share url
Copy